14 सितम्बर हिन्दी दिवस

14 सितम्बर को हिन्दी दिवस मनाया गया हिंदी हमारे देश की मात्र भाषा हें और हमारी पहचान भी हें आज मंदसौर में हिन्दी  दिवस के अवसर में एक रेली का आयोजन  किया गह जो की बी. प. एल. चौराहा से होकर भारत माता तक निकाली गई और वहा पर इस से संभंधित उद्भोधन भी  हुवा और इसके माध्यम से लोगो में इसके प्रति जागरूकता  का उद्येश्य था, ता की लोग इसके महत्व को समझे और हिंदी को अपने जीवन शेली में शामिल करे | आज युवा पीडी का रुझान हिन्दी के अतिरिक्त अंग्रेजी पर ज्यादा ध्यान रहता हें तथा वह हिंदी को छोड़कर अंग्रेजी में ज्यादा रूचि रखते हें और अंग्रेजी बोलकर अपने  आप को गोरवान्वित महसूस करते हें यह एक इसी विचार धारा  हें जो हमारे समाज में एक जहर के रूप में शिक्षा के माध्यम से घोली जा रही हें  और एक षड़यंत्र के रूप में सहजता से और बड़ी ही क्रियाशीलता से इसको परोसा जा रहा हें और आज की युवा पीडी इस जहर को अच्छी तरह से पि रही हें ये जो बाहरी संघठन हें जो शिक्षा के रूप में हमारे यहाँ पुरे देश भर में कार्य कर रहे हें और लाखो रुपये हमारे यहाँ से कम करके विदेशो में ले जाते हें और हमको उनकी परंपरा  शिक्षा के माध्यम से देकर जाते हें जिन्हें हमारे बच्चे ग्रहण करते हें जो की हमारी संस्कृति के बिलकुल विपरीत हें | यह एक सोचा समझी रणनीति हें उन लोगो की जिससे वह हम लोगो को तोडना चाहते हें  और हिंदुस्तान का  फिर से विभाजन करना चाहते हें | उनको पता हें की यहाँ के लोगो को  उनकी संस्कृति और संस्कारो और हिन्दी से दूर करके ही इन पर फिर से राज किया जा सकता हें और वह इस कार्य में कही हद तक सफल भी हो चुके हें यह हमारी कमजोरी रही हें और यदि इस पर अब भी ध्यान नहीं दिया गया तो वह दिन दूर नहीं होगा की हम एक बार और गुलाम बन जायेंगे | इसके लिए जितना सरकारों को ध्यान देना हें उतना हम सबको भी ध्यान देने की जरुरत हें | और हम सरकार से अनुरोध करते हें की हिन्दी भाषा को एक राष्ट्र भाषा का दर्जा दिया जाये और सभी विभागों में काम काज हिन्दी में हो तभी हम हिन्दी को बचा पाएंगे और हमारी परंपरा को बचा पाएंगे | इसके लिए हम सबको जागना पड़ेगा अब वह समय आ गया हें | ताकि इस स्थिथि को समझ पाए और इस पर अंकुश लगा पाए | हमारी पहचान ही हिन्दी हें और हमारी जान  ही हिन्दी हें |

 

हिंदी हें हम वतन हें ये देश हें हमारा , हम बच्चे हें इसके ये पालक हें हमारा

 

                          जय हिन्द

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password