रफाल एक राजनेतिक गलियारा कांग्रेस के लिए

आज के समय में रफाल एक राजनेतिक विषय बन गया हें विपक्ष के लिए जो की एक हवा जनित रोग तरह फेलाया जा रहा हें वास्तव में यहाँ मामला हें क्या इसको समझ ने की ज़रूरत हें | एक बहुत ही अन्तराल के बाद में देश की वायु सेना के लिए लड़ाकू जहाज खरीदने की योजना बनी जो वायु सेना को इसकी ज़रूरत काफी लम्बे समय से हो रही थी क्योकि हम चारो तरफ से एक खतरनाक ताकतो से घिरे हुवे हें और पाकिस्तान चाइना को देखते हुवे यह सोदा अहम् हो जाता हें जो बहुत ही ज़रूरी हें हमारी सेना के लिए | या तो पिछले सरकार की तरह ही मोदी सरकार भी इस ज़रूरत को देखकर केवल हाथ धरकर बैठकर अपना कार्यकाल पूरा कर लेते पर मोदी सरकार एक बहुत ही संवेदलशील सरकार हें और देश की सेना को हर तरफ से मजबूत करना चाहते हें |

जब अटल जी के सरकार के समय एक ब्रह्मोस मिसाईल का निर्माण हुवा यह बहुत की घटक हें और आज तक चाइना या  अमेरिका किसी के पास भी एसा कोई राडार नहीं हें जो इसके निशाने को विफल कर सके लेकिन इसको लोड करने के लायक हमारे पास इस गुणवत्ता का लडाकू विमान नहीं हें इसके लिए उस समय बहुत ही खोज करके अटल सरकार की निगाहे रफाल पर टिकी यह बहुत ही खरनाक लड़ाकू विमान हें और फिर इसको लेने की योजना बनाई  गई | लेकिन हमारे देश की जनता ने प्याज के भाव के करण अटल जी की सरकार को दुबारा मोका नहीं दिया यह बहुत ही बड़ा दुर्भाग्य था हमारा लेकिन जो भी हो, सरकार बदल गई और वह योजना भी ठन्डे बसते में डाल दी गई | कांग्रेस सरकार ने इस योजना पर ध्यान नहीं दिया क्योकि चाइना और पाकिस्तान नहीं चाहते की भारत के सेना के पास रफल हो, लेकिन जब मोदी सरकार बनी और इन्होने फिर से इस पर कम शुरू किया और आख़िरकार इस सोदे को सेना के लिया ले लिया गया लेकिन विपक्ष इस पर हंगामा करके इस के उपयोग के बारे में पूछना चाहता हें लेकिन मोदी सरकार नहीं चाहती की देश के दुश्मनों को इसकी गुणवत्ता के बारे में पता चले | बस यही हें की मोदी सरकार इस बोलने से बच रही हें और पूरा विपक्ष खास कर कांग्रेस इस बात को घोटाला कह कर जनता को गुमराह कर रही हें यह पूरा वेसे ही हें जेसे अटल जी सरकार के समय जनता को गुमराह किया गया था और उनको सत्ता से हटाया था | लेकिन इस बार कांग्रेस एसा करने में सफल नहीं होगी क्योकि जनता भली भाती जानती हें लेकिन कुछ लोग गुमराह हो जाते हें और गलत निर्णय ले लेते हें जो भी हो रफाल विमान भारत आ चूका हें और बाकी विमान भारत में ही बनाये जायेंगे

मेक इन इंडिया किए योजना के तहत |

 

देश हित के फेसले पर हम सब को सरकार का साथ देना चाहिए |

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password