मार्क ज़ुक्र्बर्ग ने एपल और गूगल के खिलाफ लिखने के लिए पीआर फर्म की मदद ली

मार्क ज़ुक्र्बर्ग ने एपल और गूगल के खिलाफ लिखने के लिए पीआर फर्म की मदद ली

मार्क ज़ुक्र्बर्ग ने एपल और गूगल के खिलाफ लिखने के लिए पीआर फर्म की मदद ली

FB यानि फेसबुक पर आरोप है कि उसने एपल और गूगल के खिलाफ आर्टिकल लिखने के लिए अमेरिकी पीआर फर्म डिफायनर्स पब्लिक अफेयर्स से कॉन्ट्रैक्ट किया। न्यूयॉर्क टाइम्स (एनवाईटी) की रिपोर्ट में बुधवार को यह दावा किया गया। इसके मुताबिक अक्टूबर 2017 में एफबी ने डिफायनर्स के साथ काम बढ़ाया। डिफायनर्स रिपब्लिकन पार्टी से जुड़ी फर्म है।

रिपोर्ट के अनुसार डिफायनर्स ने फेसबुक के विवादों पर पर्दा डाला

पीएम मोदी बोले सिंगापुर के फिनटेक फेस्टिवल में की भारत में आ रही है आर्थिक क्रांति

  1. आपको बता दे की एनवाईटी के मुताबिक डिफायनर्स ने एपल और गूगल के खिलाफ कई आर्टिकल लिखे। साथ ही फेसबुक पर रूस के बारे में गलत जानकारी देने के मामले का असर कम करने की कोशिश की।
  2. एफबी ने डिफायनर्स के जरिए यह बात भी फैलाई कि एंटी फेसबुक मूवमेंट बढ़ने के पीछे निवेशक और सामाजिक कार्यकर्ता जॉर्ज सोरोस का हाथ था। एनवाईटी की रिपोर्ट में कहा गया है कि डिफायनर्स ने पत्रकारों पर यह लिखने का दबाव डाला कि फेसबुक का विरोध करने वाले समूहों के साथ सोरोस के आर्थिक संपर्क हैं।
  3. और एनवाईटी के मुताबिक फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने अपने मैनेजर्स को एंड्रॉयड फोन इस्तेमाल करने के आदेश दिए। क्योंकि, एपल के सीईओ टिम कुक ने प्राइवेसी के मुद्दे पर फेसबुक की निंदा की थी।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password