भारतीय महिलाओं के पास हैं दुनिया में सबसे ज्यादा सोना, जानिए कितना…

भारतीय महिलाओं के पास हैं दुनिया में सबसे ज्यादा सोना, जानिए कितना...

भारतीय महिलाओं के पास हैं दुनिया में सबसे ज्यादा सोना, जानिए कितना…

पूरी दुनिया में सोना पाने और इससे संवारने की दीवानगी दुनियाभर में है। धनतेरस सोना खरीदने का सबसे अच्छा दिन माना जाता है। देश और दुनिया में कितना सोना है और इसका क्या महत्व है।

भारत में 24 हजार टन सोने का अनुमान
वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के अनुसार दुनिया में जब से सोने का खनन शुरू हुआ है, जमीन से करीब दो लाख टन सोना निकाला जा चुका है। काउंसिल की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में 24 हजार टन सोना होने का अनुमान है। इसमें भी भारतीय महिलाओं के पास 21 हजार टन सोना है। यह दुनिया में सबसे ज्यादा है।

निवेश के मामले में जमीन को तरजीह

भारतीय परिवारों में निवेश के मामले में सबसे बड़ी प्राथमिकता जमीन है। दूसरा नंबर सोने का है। लोग कुल बचत का 84 प्रतिशत हिस्सा तक रियल एस्टेट में लगाते हैं तो 11 प्रतिशत हिस्सा गोल्ड में जाता है।

भारत में लोग अपनी बचत का सिर्फ 5 प्रतिशत ही बैंक अकाउंट, शेयर, फंड जैसे साधनों में लगाते हैं। लेकिन देश के कुछ राज्यों में गोल्ड में निवेश राष्ट्रीय औसत से बहुत ज्यादा है। इसमें सबसे ज्यादा तमिलनाडु में लोग कुल निवेश का 28.3 प्रतिशत हिस्सा सोने में लगाते हैं।

भारतीय घरों में मौजूद कुल सोने में करीब 80 प्रतिशत हिस्सा गहनों का है। सोने के गहनों पर बड़ी गोल्ड कंपनियां मेकिंग चार्ज के रूप में सोने की कीमत का 14 प्रतिशत तक लेती हैं।

सोने के उत्पादन में भारत बहुत पीछे है। स्टेटिस्टा के मुताबिक देश में 2017 में सिर्फ 1,594 किलो यानी डेढ़ टन साेने का उत्पादन हुआ। कर्नाटक में सोने का सबसे ज्यादा प्रोडक्शन होता है।

देश में सोने का प्रोडक्शन घट रहा है। वर्ष 2000 में सोने का उत्पादन 2615 किलो हुआ था। 2007-08 में सोने का 2969 किलो उत्पादन हुआ था। इसके बाद सोने का उत्पादन घटने लगा। 2013-14 में 1564 किलोग्राम सोने का उत्पादन हुआ था।

  1. भारत में ऐसे बंटा है सोना

भारत की महिलाओं के पास 21 हजार टन सोना है। यानी दुनिया के कुल सोने का 11 प्रतिशत हिस्सा। इतना सोना तो दुनिया के शीर्ष पांच देशों अमेरिका (8 हजार टन), जर्मनी (3,300 टन), इटली (2,450 टन), फ्रांस (2,400 टन) और रूस (1900 टन) के कुल फॉरेन रिजर्व में भी नहीं है।

 

बैंकों के पास: 750 टन
भारत के रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया में 566.36 टन सोना वर्ष 2017-18 में था। मुथूट फाइनेंस, मनप्पुरम फाइनेंस जैसी निजी कंपनियों के पास 2014 में 200 टन सोना होने का अनुमान था। मुथूट फाइनेंस के पास 116 टन, मनप्पुरम फाइनेंस के पास 40 टन और मुथूट फिन कॉर्प के पास 39 टन सोना है।

 

दुनिया में करीब 2 लाख टन सोना

  • खनन से अब तक 1 लाख 90 हजार 40 टन सोना निकाला गया। इसमें दो तिहाई यानी 26 लाख टन 1950 के बाद निकाला गया।
  • हर साल दुनियाभर में लगभग 3 हजार टन सोना खनन से निकाला जा रहा है।
  • धरती के भीतर अभी और कितना सोना है, यह आकलन समय-समय पर नई खोजों के अनुसार बदलता रहा है।
  • दुनिया भर में जितना सोना है उसका लगभग 48 फीसदी जेवरात के रूप में है।
  1. सोने का इस्तेमाल
सेक्टर सोना (टन)
गहने 90,718
प्राइवेट इन्वेस्टमेंट 40,035
ऑफिशियल सेक्टर 32,575
अन्य 26,711
कुल 1,90,040

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली का 30 वां बर्थडे

 

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password