बिना मिटटी से उगाये फल और सब्जिया कमाए लाखो रुपए


आजकल भारत में जितनी भी फसल उगाई जाती है उसमे से ज्यादातर फसलो में कीटनाशक का छिटकाव करते है जो स्वास्थ्य के लिये अच्छा नहीं होता है धीरे धीरे कीटनाशक का दबाव बड़ा और देश के लोग कीटनाशकयुक्त खाने में मजबूर हो गए ! इस दिशा में आगे बड़ते हुए दिल्ली चार युवाओं ने मिलकर हाइड्रोपोनिक्स विधि से जैविक खेती करना शुरू किया है। हाइड्रोपोनिक्स विधि में बिना मिट्टी के पानी में खेती की जाती है। इसमें खास बात यह भी है कि परंपरागत खेती की तुलना में इस विधि से खेती करने में पानी भी कम लगता है। कुछ मामलों में तो इसमें लगभग 90 प्रतिशत तक पानी की बचत होती है। जिन क्षेत्रों में पानी की कमी होती है उनमें इस विधि से खेती करना फायदे का सौदा हो सकता है।
चार दोस्तों दीपक कुकरेजा, ध्रुव खन्ना, उल्लास सम्राट और देवांशु शिवानी ने मिलकर 2014 में शहरी खेती के क्षेत्र में ट्राइटन फूडवर्क्स की शुरुआत की थी। साल 2014 की शुरुआत में उल्लास अपनी मोहाली में खेती करने के तरीके खोज रहे थे। ये काम वो अपनी मां के लिए कर रहे थे जिन्हें फेफड़ों का संक्रमण था। जब डॉक्टर्स ने उन्हें बताया कि फार्महाउस में रहना या धूल भरे क्षेत्र के पास रहने से उनकी मां को खतरा हो सकता है, ये जानने के बाद उल्लास ने स्वच्छ तरीके से बिना धूल वाली खेती करने का रास्ता खोजना शुरू किया।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password