छत्तीसगढ़ में EVM को लेकर सही निकली कांग्रेस की शिकायत, तहसीलदार को किया सस्पेंड

छत्तीसगढ़ में EVM को लेकर सही निकली कांग्रेस की शिकायत, तहसीलदार को किया सस्पेंड

छत्तीसगढ़ में EVM को लेकर सही निकली कांग्रेस की शिकायत, तहसीलदार को किया सस्पेंड

आपको बता दे की नियम है कि मतदान के बाद सभी ईवीएम ( EVM) स्ट्रांग रूम में सख्त सुरक्षा व्यवस्था के बीच रखीं जाएं. पहरा ऐसा हो कि परिंदा भी न पर मार पाए. स्ट्रांग रूम में अनाधिकृत रूप से किसी भी व्यक्ति का प्रवेश अमान्य है. मगरछत्तीसगढ़ में गजब हुआ. यहां तहसीलदार ने अपने साथ अवैध तरीके से एक व्यक्ति को EVM( ईवीएम) के स्ट्रांग रूम में घुसने दिया. कांग्रेस नेताओं की शिकायत सही पाए जाने पर  बुधवार देर रात धमतरी के तहसीलदार राकेश ध्रुव को निलंबित कर दिया गया है. आरोप है कि धमतरी के तहसीलदार ने अपने साथ अनाधिकृत व्यक्तियों को बगैर निर्वाचन आयोग व जिला निर्वाचन अधिकारी की अनुमति के स्ट्रॉंग रूम के भीतर प्रवेश करा दिया था.

अब इस मामले ने पिछले दो-तीन दिनों से पूरे प्रदेश में राजनैतिक तूफान खड़ा कर दिया था. सभी राजनैतिक पार्टियां अपने-अपने तरीके से विरोध प्रदर्शन कर कार्रवाई की मांग कर रही थीं. इस मामले में तो छत्तीसगढ़ कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू से मंगलवार की ही देर रात मुलाकात कर मामले की जानकारी भी दी थी.

कांग्रेस की शिकायत के बाद जिला निर्वाचन अधिकारी धमतरी से रिपोर्ट मंगवाई गई थी. शिकायत सही पाई गई. इसके आधार पर तहसीलदार के खिलाफ यह कार्रवाई की गई है. मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के निर्देश पर रायपुर संभाग के कमिश्रर जीआर सुरेंद्र ने यह आदेश जारी किया है. जारी आदेश के अनुसार तहसीलदार राकेश ध्रुव को निर्वाचन निर्देशों का उल्लंघन किए जाने के कारण निलंबित किया गया है. निलंबन अवधि में ध्रुव को मुख्यालय कलेक्टोरेट कार्यालय रायपुर में नियत किया गया है.

एयर इंडिया की फ्लाइट इमारत से टकराई, सभी 179 यात्री सुरक्षित
ईवीएम में सेंधमारी के डर से टेंट लगाकर खुद निगरानी कर रहे कांग्रेस उम्मीदवार
बता दे की छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में भले ही मतदान हो गया हो लेकिन बावजूद इसके उम्मीदवारों को EVM में सेंधमारी का डर सता रहा है. डर ऐसा कि कार्यकर्ताओं की बात छोड़िए, खुद उम्मीदवार स्ट्रांग रूम के बाहर टेंट लगाकर निगरानी करने बैठ गए हैं. पूरा मामला छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले के केशकाल और कोंडागांव विधानसभा सीट की है. हालांकि यहां चुनाव के बाद EVM मशीन को स्ट्रांग रूम में जमा कराकर सील कर दिया गया था.

अगर ऐसा ही चलता रहा तो चुनाव के सही फैसले केसे निकलेंगे.

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password